Thursday, 12 April 2018

एक अधूरी दास्ताँ





  

लड़की के पास फोन आता है किसी लड़के का , जिसे वह जानती है!





Girl- hello.....यार कितनी रात हो गयी है तुमने फिर फोन किया. अभी तो बात किये थे थोड़ी देर पहले. 







Boy- तुम्हे बुरा लगा Ok फोन रखता हूँ



Girl- अगर तुमने फोन cut किया न तो में तुमसे बात नहीं करुँगी! 










Boy- तुमने ही तो कहा इतनी रात को मैंने फोन क्यों किया? अब जब मेने कहा रखता हूँ तो कहते हो बात नहीं करुँगी. हाँ! तुम लड़कियां न impossible हों! 







(तभी इतनी बात सुन कर लड़की के चहेरे पर एक प्यारसी मुस्कान आ जाती है लेकिन वह थोड़ा गुस्सा होती है)










Girl-(थोड़ा गुस्से में) तुम न बहुत बुरे हो! जाओ मुझे तुमसे बात नहीं करनी है! 







Boy- अरे यार गुस्सा क्यों करती हो रिया. में तो बस ऐसे ही कह रहा था! 







रिया - में भी ऐसे ही कह रही थी (हँसते हुए). लेकिन में तुमसे अभी भी नाराज हूँ समीर!







समीर-(तोडा confuse होते हुए) अब क्या हुआ मेरी जान?  







रिया- तुमने तब फोन cut क्यों किया?? 







समीर- वो एक मेरे दोस्त का फोन आ गया था! उसे कुछ जरूरी बात करना था इसलिए ........





I am sorry riya अब गुस्सा छोड़ दो.





रिया- अच्छा ठीक है माफ़ किया. (इसके बाद दोनों खुश हो जाते है) 





रिया- समीर १२ बारह बज गए है. 





समीर- हाँ तो?? 



रिया- happy birthday to you sameer. Many many returns of the day.

समीर:- ok thank you ....But मुझ यह बताओ आपको यह किसने बताया की आज मतलब सुबह मेरा birthday है...और मेने तो बताया भी नहीं और वैसे भी अपनी दोस्ती तो अभी हुई है ...मतलब समीर के पास कितने सवाल थे ...उससे जवाब जान ने के लिए .....तभी ...

रिया:- अरे नहीं समीर यार वो मुझे कोचिंग में ही पता चल गया था की कल समीर का बर्थडे है ... 

समीर:- ओके ...Thanks




0 Comments: