Saturday, 12 May 2018

एक सन्देश विद्यार्थियों के नाम








नमस्कार दोस्तों मेरा नाम सोनू है  

मेरा आज का सन्देश मेरे उन दोस्तों के नाम है जो अपने रिजल्ट का आने का इन्तजार कर रहे है दोस्तों अब इन्तजार की घड़ियाँ ख़त्म हो गयी है , क्यूंकि आज से सिर्फ दो ही दिन बाकी है रिजल्ट आने में! दोस्तों आप सभी को पता ही होगा , हाल ही में  mpbse ने एक सूचना में कहा की इस बार दसवीं और बाहरवीं के रिजल्ट की तारीक 14 मई घोषित की गयी  है!  दोस्तों 14 मई को दसवीं और बाहरवीं के रिजल्ट एक साथ सुबह समय  10 से 11 के बीच में जारी कर दिए जाएंगे! आप अपने मोबाइल फोन , कम्यूटर और लेपटॉप आदि से इंटरनेट की मदद से आराम से देख सकते है एमपी बोर्ड 10वीं और एमपी बोर्ड 12वीं के नतीजे आधिकारिक वेबसाइट mpbse.nic.in और mpresults.nic.in पर घोषित किए जाएंगे। दोस्तों आप अपने रिजल्ट की टेंशन मत लो में आपको कुछ बाते बता रहा हूँ जो अक्सर हर स्टूडेंट के मन में रहती है सभी स्टूडेंट के मन में अपने रिजल्ट के प्रति नकारात्मक भाव आते है जिसके कारण वह अवसाद में आ जाते है तो दोस्तों में आपको कुछ ऐसी बातों से अवगत कराऊंगा जो आपके लिए जानना बहुत जरूरी है!




 दोस्तों बोर्ड परीक्षा को लेकर स्टूडेंट खासा तनाव और अवसाद के शिकार हो जाते है , ऐसे में उनके  करियार पर भी प्रभाव पड़ता है! 

ऐसे हालत में मनोवैज्ञानिक ने स्टूडेंट के लिए कुछ उपाय बातये है!




 मनोवैज्ञानिक डा. तिवारी कहते है की रिजल्ट को लेकर स्टूडेंट जितना परेशान है उससे कही अधिक उनके अभिभावक  चिंतित है , और यही बच्चो के तनाव की असली वजह है! 

(1).अभिभावक को समझना चाहिए की यह उनके परीक्षा का रिजल्ट है उनकी जीवन की परीक्षा का नहीं! 




(२).माता पिता  अपने बच्चो के रिजल्ट को लेकर उत्साहित न हो , उन्हें यह समझाए की यह उनकी पढाई का रिजल्ट है उनके जीवन का नहीं

(३). अगर परिणाम अच्छा हो तो शाबासी दे! अगर रिजल्ट खराब है तो रिजल्ट को खुद स्वीकारकरे! और बच्चे को भी स्वीकार करने में उनकी मदद करे! 

(४)..अपने बच्चो का मनोबल बढ़ाये न की उन्हें डराए! 




 (५)..उन्हें आप प्रेरित करे की अगले साल का आने वाला रिजल्ट अच्छा रहेगा!  

(६)... माता पिता अपने बच्चो को प्रेम से भावपूर्ण समझाए और बच्चो को अधिक कोई भी बात अपने दिमाग में ना आने दे! 

(७)..ऐसे में अभीभावक खुद तनाव में न रहे और ना ही बाचो को तनाव में होने दे! 

(८)...हाई स्कूल के रिजल्ट का करियर पर उतना असर नहीं होता जितना की इंटरमिडिएट का! यह अभी भावक के साथ बच्चो को भी समझना चाहिए!

 (९)...दोस्तों अपने रिजल्ट के प्रति अपने मन में अधिक टेंशन लेने की जरूरत नहीं है होगा सो हो जायेगा लेकिन आप कोई भी गलत कदम नहीं उठाओ रिजल्ट आने के बाद यह आपके जीवन के लिए हानिकारिक साबित हो सकता है! 

(१०)..दोस्तों आप रिजल्ट के करना अवसाद के शिकार न हो रिजल्ट तो पूरी ज़िंदगी भर आते है कभी ख़राब तो कभी सही  यह सब हमारी ज़िंदगी के अहम पहलु होते है जिनसे हमें निकलना पड़ता है! 

दोस्तों  आपको मेरा यह छोटा सा ब्लॉग आपको केसा लग जरूर बताये और सब के साथ शेयर जरूर करे.....!

0 Comments: