छेड़छाड़ः से बचने के उपाए

 नमस्कार दोस्तों आज की पोस्ट में हम कुछ ऐसे विषय के बारे में बात करने वाले है , जो हमारे समाज में एक कलंक के जैसे कार्य करता है , जिसमे रोज लाखो महिलों एवं बालिकाओं को अनेक प्रकार की अभद्र व्यवहार एवं छेड़छाड़ जैसे अनेतिक गतिविधियों का सामना करना पढता है , तो दोस्तों इस ब्लॉग को आप अच्छे से पढ़े और सबके साथ शेयर करे , क्यूंकि इस ब्लॉग में मेने कुछ ऐसे उपाए बताये है , जो उनके लिए बहुत मददगार साबित होगे.

छेड़छाड़ः से बचने के उपाए 

(1).....समझ में परिपूर्ण रहे- यहाँ इस पॉइंट का मतलब क्या है आपके लिए , इसका मतलब यह है की आपको सब कुछ  पता होना चाहिए की प्रताड़ित करने वाला व्यक्ति किस प्रकार  से आपको कष्ट  पंहुचा रहा है जैसे- सीटी बजाना गलत  कम्मेंट करना , अश्लील हरकते करना , आपको छू न , अष्लील गालिया देना आदि आपको सब कुछ समझ में आना चहिये की सामने वाला क्या हरकते करता है! और यदि आपको सोशल मीडिया पर कोई परेशान करे तो आप साइबर क्राइम में इसकी शिकायत कर सकती हो!


(2)...स्वयं की रक्षा करने में निपूर्ण बने- आपको अपने आपको मजबूत करना है , अपने आप को बचने के लिए यदि आप समझदारी से काम ले तो यह आपके जरूरर काम आ सकता है! आप जब कोचिंग जाते हो या कही बहार तो अपने बेग में मिर्ची वाला स्प्रे अपने बेग में जरूर रखे! जब कोई ऐसी स्थिति  हो तब आप उन दरिंदों के आंखों झोंक सकती हो!


 (3)......पुरषों के सामने थोड़ा कड़क रहे- आपको इस सलाह को भी आपनामा चाहिए आपको पुरषों के सामने थोड़ा गंभीर रूप में रहे उन्हें अपने हावभाव से ही  डराने  धमकाने की कोशिश करे ताकि कोई आपको आँख उठा कर देख न सके , आपको बड़ी ही सजता के साथ यह तरीका अपनाना है


 (4)....अपने कानों में एअर फोन लगाए रखे- आपको अपने कानो में एअर फोन लगाना है और सीधे रस्ते चलना है आपको कीसीको भी नहीं देखना है , आपका ध्यान खींचने के लिए अक्सर पुरुष आपको देख लार गंदे कॉमेट करतेe है सीटी बजाते है! जब उन्हें पता चलेगा की आपके कान में हेडफोन है तो वो समझ जायेगे की आपको सुनाई नहीं दे रहा है तो वो स्वयं हेस चुप जायेगे!
         आपको एअरफोन लगाना है लेकिन उसमे सुनाए देना चाहिए क्यूंकि कई बार ऐसा भी होता है की आप गाने सुनते रहे और दरिंदे पीछे से आ सकते है इसलिए आप थोड़ा चौकन्ने रहे


(5)....सार्वजानिक स्थान की तलाश करे- जब कोई व्यक्ति आपका लगातार पीछा करता है तो आपको सार्वजनिक स्थान की और अपना  रूख कर लेना चाहिए! आपको ऐसी जगह पर जाना है जो बहुत भीड़भड़ वाली हो , आपको ऐसी जगह जाना चाहिए जैसे कोई होटल या रेस्टुरेंट और मौका मिलते ही आपको पुलिस को सूचित करना है!


(6)....चलते रहे- 

यदि आपको देखकर कोई व्यक्ति कोई प्रतिक्रिया कर रहा है तो आपको उसकी आवाज फोन में रिकॉर्ड कर लेनी चाहिए pउसकी बातो में ध्यान नहीं देना है आपको आगे चलना चाहेये ना की उससे बहस करना फिर जब वो कुछ अधिक ही अपनी हद्दे पार करे तब आपको पुलिस  को फोन लगा सकती हो!


 (7)...कठौर दंड दे- 

जब आपको कोई छेड़ता है तो आरोपी के लिए कठोर से कठौर कदम उठाना चाहिए! समाज की मानसिकता को रोकना जिसके अंतर्गत यह छेड़छाड़ः को रोका जा सकता है! अब समय आ गया है आपको शक्तिशाली बनना है , तभी इस देश का कुछ हो सकता है! 5

(8)....भागीदारी बने- 

यदि आप उत्पीड़न के शिकार हो तो आपको अपने भरता में बहुत संस्ता है जो आपकी मदद कर सकते है आपको इनसे जॉड्ना होता है आपको बताना होगा की आपक्को यह प्रताड़ना का शिकार हुए हो आप इस  https://delhi.ihollaback.org/share-your-story/  

आप इस संथा जुड़ सकते इन्हे आप अपनी आपनीति बता सकते हो!





            आपको उबड़ खाबड़ रस्ते से नीही जाना है आपको सड़क पर ही जान है! आपकी सुरक्षा आपकी स्वयं की जिम्मेदारी होनी चाहिए! और इस बाद को ध्यान में रखते हुए आपको उचित कदम उठाने चाहिए! आपको स्वयं समझ लेना चाहिए फिर इसके बाद सामने वाले को प्रतिकिया दे!

0 Comments: